सिनीवाली की कहानी ‘उस पार’।

सिनीवाली             मनोविज्ञान से स्नातकोत्तर, इग्नू से रेडियो प्रसारण में पी जी डी आर पी कोर्सबचपन से गाँव के साथ साथ विभिन्न शहरों में प्रवासअभी अभी कहानी संग्रह ‘ हंस अकेला रोया ‘ प्रकाशितपरिकथा के 2016 के नवलेखन अंक के लिए चयनितप्रतिलिपि कथा सम्मान से सम्मानित परिकथा, लमही, गाथांतर, दैनिक भास्कर, करुणावती, बिंदिया, आदि पत्र […]