शेष नारायण मिश्र की गजलें

शेष नारायण मिश्र काशी विद्यापीठ वाराणसी के संस्कृत विभाग में रिसर्च फेलो हैं। संवेदनाओं से भरी हुईं इनकी गज़लें हमें अन्दर तक झकझोरती हैं एवं सोचने के लिए विवश करती हैं। आईए पढ़ते हैं शेष नारायण की कुछ नयी गज़लें।   (1) पास रहकर लड़ो लड़ कर नहीं जाने दूँगा। अब मिले हो तो बिछड़ कर […]

शेष नारायण मिश्र की गज़लें

  शेष नारायण मिश्र  का जन्म उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले के मऊ में दो जनवरी  १९८५ को हुआ. स्थानीय महामति प्राणनाथ महाविद्यालय मऊ से स्नातक स्तर तक की शिक्षा प्राप्त करने के पश्चात इन्होने  वर्ष २००५ में दिल्ली के जवाहर  लाल नेहरु विश्वविद्यालय  से संस्कृत में स्नातकोत्तर  किया. अपने समूचे अध्ययन काल  में शेषनारायण एक मेधावी छात्र रहे. २००६ में यू. जी. सी. की जे. आर. एफ. के लिए  […]