शाहनाज़ इमरानी की कहानी ‘लड़ाई जारी है’

शाहनाज इमरानी   जन्मस्थान – भोपाल (मध्य प्रदेश) शिक्षा – पुरातत्व विज्ञान (आर्कियोलॉजी) में स्नातकोत्तर  सृजन – कई महत्वपूर्ण पत्र-पत्रिकाओं में कविताएँ छपी हैं।             पहला कविता संग्रह  “दृश्य के बाहर” पुरस्कार – लोक चेतना की साहित्यिक पत्रिका “कृति ओर” का प्रथम सम्मान! संप्रति – भोपाल में अध्यापिका  हाल ही में पकिस्तान […]

शाहनाज़ इमरानी की कविताएँ

शहनाज इमरानी नाम – शाहनाज़ इमरानी  जन्म स्थान – भोपाल (मध्य प्रदेश ) शिक्षा – पुरातत्व विज्ञानं (आर्कियोलोजी) में स्नातकोत्तर  सृजन – कई पत्रिकाओं में कविताएँ छपी हैं।             पहला कविता संग्रह  “दृश्य के बाहर“ पुरस्कार – लोक चेतना की साहित्यिक पत्रिका “कृति ओर” का प्रथम सम्मान ! संप्रति – भोपाल में […]

अशोक कुमार पाण्डेय के कविता-संग्रह “प्रलय में लय जितना” पर शाहनाज़ इमरानी की समीक्षा

अशोक कुमार पाण्डेय अशोक कुमार पाण्डेय हमारे समय के एक समर्थ युवा कविहैं। अशोक का हाल ही में एक नया कविता संग्रह आया है ‘प्रलय में लय जितना‘। इस संग्रह पर कवयित्री शहनाज इमरानी ने एक समीक्षा लिखी है। आइए पढ़ते हैं शहनाज की यह समीक्षा।   दिक़्क़त सिर्फ़ इतनी है कि रास्ते में एक वर्तमान […]

शाहनाज़ इमरानी की कविताएँ

शाहनाज़ इमरानी जन्म – भोपाल में  शिक्षा – पुरातत्व विज्ञान (आर्कियोलॉजी) में स्नातकोत्तर  संप्रति – भोपाल में अध्यापिका इस दुनिया में धर्म के नाम पर हुई लड़ाईयों में जितने अधिक लोग मारे गए हैं उतना शायद और वजहों से हुई लड़ाईयों में नहीं मारे गए. हमारे प्रख्यात वैज्ञानिक यशपाल ने हाल ही में कहा है […]

विजेंद्र के संग्रह “आधी रात के रंग” पर शाहनाज़ इमरानी की समीक्षा

कवि  या कलाकार होने की पहली ही शर्त है  अपनी जमीन और अपने लोक से जुड़ाव। विजेन्द्र जी ऐसे कवि हैं जो आज भी अपने जमीन और लोक से पूरी तरह जुड़े हुए हैं। उनकी कविता हो या उनके चित्र इस बात की स्पष्ट रूप से ताकीद करते हैं। ‘आधी रात के रंग’ उनकी एक […]

शाहनाज़ इमरानी की कविताएँ

शहनाज इमरानी कविता की  दुनिया में एक नया नाम है. शहनाज की कवितायें बिम्ब और शिल्प के चौखटे तोड़ते हुए ढेर सारी उम्मीदों के साथ हमारे सामने हैं. देखने वालों को इन कविताओं में एक अनगढ़पन भी दिखेगा लेकिन इस बात से इंकार नहीं कि यह नयी कवियित्री पूरी तरह चौकस है अपने समय, समाज […]