विवेक निराला की कविताएँ

समकालीन कवियों में विवेक निराला अपने अलग शिल्प और सांगीतिक भाषा के लिए विशेष तौर पर जाने जाते हैं। ‘एक बिम्ब है यह’ उनका पहला कविता संग्रह था। एक अरसे बाद राजकमल प्रकाशन से विवेक का दूसरा कविता संग्रह ‘ध्रुव तारा जल में’ प्रकाशित हुआ है। कवि को बधाई देते हुए हम प्रस्तुत कर रहे […]

विवेक निराला का आलेख “हैराँ हूँ मैं कि ऐसी ये मश्हद है कौन-सी”

विवेक निराला का यह महत्वपूर्ण आलेख पहल अंक-94 में कुछ सम्पादित करके प्रकाशित किया गया है। ब्लॉग पर इस आलेख की अविकल प्रस्तुति की जा रही है। आइये पढ़ते हैं यह आलेख।  (90’ के दशक की परिस्थितियों, हिन्दी कविताओं और कवियों के रचनात्मक मानस पर पुनर्विचार) हैराँ हूँ मैं कि ऐसी ये मश्हद है कौन-सी […]

विवेक निराला

विवेक निराला का जन्म ३० जून १९७४ को इलाहाबाद में हुआ. विवेक ने इलाहाबाद विश्वद्यालय से दूध नाथ सिंह के निर्देशन में ‘आधुनिक हिंदी साहित्य में शोषण विरोधी चेतना’ (निराला साहित्य के विशेष सन्दर्भ में) पर शोध कार्य किया. राजकमल प्रकाशन से कविता संग्रह ‘एक बिम्ब है यह’ और लोकभारती प्रकाशन से एक आलोचना की […]