योगेंद्र आहूजा की कहानी ‘मनाना’

योगेन्द्र आहूजा योगेन्द्र आहूजा अपने ढंग के अनूठे कहानीकार हैं। यह अनूठापन उनका शिल्प और उनका कहन है। प्रस्तुत कहानी ‘मनाना’ में भी इसे देखा जा सकता है। पहल के सौंवे अंक में कथाकार योगेन्द्र आहूजा की यह कहानी प्रकाशित हुई है। आइए आज पढ़ते हैं योगेन्द्र आहूजा की यह कहानी।   मनाना योगेंद्र आहूजा To […]