नीरज शुक्ल

नीरज शुक्ल उभरते हुए युवा कहानीकार हैं। इनकी कहानी छुट्टियां में वह रोमान दीखता है जो युवा दिलों को एकमेक कर देता है। अनजाने-अनचाहे ही उभरने वाला प्यार जो एक बीज की तरह अँधेरे में न जाने कब प्रस्फुटित होता है और अंकुरित होकर पौधे की शक्ल में तब्दील हो जाता है। लेकिन इस कोमल से […]