चारुलेखा मिश्रा

विमल चन्द्र पाण्डेय हमारे समय के चर्चित युवा कथाकारों में से हैं। इनकी अभी एक संस्मरण की किताब ‘ई इलाहाबाद है भैया’ फरवरी में दिल्ली पुस्तक मेले में लोकार्पित हुई जिसका प्रकाशन ‘दखल प्रकाशन’ ने किया है। अभी बमुश्किल छः महीने हुए,  किताब का पहला संस्करण ख़त्म हो गया और प्रकाशक को इस किताब का दूसरा संस्करण […]