रेखा चमोली के काव्य संग्रह ‘पेड़ बनी स्त्री’ पर एस.पी. सेमवाल की समीक्षा

युवा कवियित्री रेखा चमोली का संग्रह ‘पेड़ बनी स्त्री’ काफी चर्चा में रहा है और इसी संग्रह पर उन्हें पिछले वर्ष सूत्र सम्मान प्रदान किया गया था। इस संग्रह पर एक समीक्षा लिखी है एस. पी. सेमवाल ने। तो आईये पढ़ते हैं यह समीक्षा।       एक उद्भावना, कविता संग्रह “पेड़ बनी स्त्री” के प्रति      एस. पी. […]