अरविन्द दुबे की कविताएँ

डॉ अरविन्द दुबे कविता का वितान व्यापक होता है। दुनिया की हर वस्तु, विचार या विषय कविता का संदर्भ हो सकता है। तो भला विज्ञान, जिसकी इस दुनिया को बदलने में एक बड़ी भूमिका है, कविता से परे कैसे रह सकता है। मुक्तिबोध की कविताओं में हमें स्पष्ट तौर पर यह वैज्ञानिकता दिखाई पड़ती है। […]