वाचन-पुनर्वाचन — अजेय की कविताएं

पहली बार पर हमने एक स्तम्भ शुरू किया था ‘वाचन-पुनर्वाचन’. इसके अंतर्गत एक कवि की कविताएं दूसरे कवि की टिप्पणी के साथ प्रस्तुत की जाती है। हमारे इस बार के कवि हैं अजेय. और इनकी कविताओं पर सारगर्भित टिप्पणी की है हमारे समय के महत्वपूर्ण कवि शिरीष कुमार मौर्य ने। कविता में करूणा खोजता कवि  अजेय […]